विशिष्ट शिक्षक सक्षमता परीक्षा हिंदी व्याकरण : संज्ञा और उसके प्रकार

सक्षमता परीक्षा हिंदी व्याकरण संज्ञा और उसके भेद परिभाषा और उदहारण Noun & Its Types In Hindi
Share This Post

Sakshamta Exam Hindi Grammar

You also Get
Sakshamta Exam PDF Notes Order Sakshamta Exam Printed Notes
Watch Sakshamta Exam All Videos Sakshamta Preparation App

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा आयोजित विशिष्ट शिक्षक सक्षमता परीक्षा का संपूर्ण अध्ययन सामग्री आप हम से प्राप्त कर सकते हैं। प्राथमिक विद्यालय (कक्षा 1 से 8), माध्यमिक और उच्च माध्यमिक विद्यालय में कार्यरत सभी शिक्षकों के लिए सक्षमता परीक्षा के अध्ययन सामग्री हम उपलब्ध कराते है। संपूर्ण अध्ययन सामग्री प्राप्त करने के लिए आप मुझसे संपर्क करें – 7631314948 पर

संज्ञा की परिभाषा

किसी भी व्यक्ति, वस्तु, जाति, भाव या स्थान के नाम को संज्ञा कहते हैं।

जैसे – मनुष्य (जाति), अमेरिका, भारत (स्थान), बचपन, मिठास (भाव), किताब, टेबल(वस्तु) आदि।

निम्नलिखित उदाहरणों से हम संज्ञा को अच्छे से समझ सकते हैं –

उदाहरण 1 (Example) –

सुरेश भाषण प्रतियोगिता में प्रथम आया था। इसलिए वह दौड़ता हुआ स्कूल से घर पहुँचा, इस बात को आपने माता-पिता को बताते हुए वह बहुत खुश लग रहा था। यह बात सुन कर सुरेश के माता-पिता बहुत आनंदित हुए और उन्होंने उसे गले लगा लिया।

इन पंक्तियों में –

सुरेश, माता-पिता (व्यक्ति)

See also  Sakshamta Exam Answer Key Objection

स्कूल, घर (स्थान)

खुश, आनंदित (भाव)

आदि संज्ञा प्रयुक्त हुई है।

 उदाहरण 2 (Example) –

भारत एक लोकतांत्रिक देश है। नरेंद्र मोदी भारत के प्रधानमंत्री हैं। हॉकी भारत का राष्ट्रीय खेल है। गंगा भारत की एक पवित्र नदी है। कुरान मुसलमनों का पवित्र ग्रन्थ है। त्योहारों से हर घर में ख़ुशी आती है। आज दीपक बहुत खुश है। दीपक हर सुबह एक गिलास दूध और चार अंडे खाता है।

इन वाक्यों में चिह्नित शब्द किसी न किसी तरह से संज्ञा से सम्बंधित हैं-

भारत – देश का नाम

नरेंद्र मोदी – व्यक्ति का नाम

हॉकी – खेल का नाम

गंगा – नदी का नाम

कुरान – ग्रन्थ का नाम

मुसलमनों – विशेष समुदाय का नाम

ग्रन्थ – किसी किताब की विशेष श्रेणी का नाम

ख़ुशी – एक प्रकार का भाव

गिलास – वस्तु का नाम

दूध, अंडे – खाद्य पदार्थ का नाम

 

संज्ञा के भेद और उदाहरण

(Types of Noun in Hindi and Examples)

संज्ञा के मुख्यतः तीन भेद होते हैं –

  1. जातिवाचक संज्ञा,
  2. व्यक्तिवाचक संज्ञा और
  • भाववाचक संज्ञा

परन्तु अंग्रेजी व्याकरण के प्रभाव के कारण कुछ विद्वान संज्ञा के दो भेद और मानते हैं –

  1. समुदाय वाचक या समूह वाचक संज्ञा और
  2. द्रव्यवाचक संज्ञा

अतः वर्तमान में संज्ञा के पांच भेद कहे जाते हैं –

1- व्यक्तिवाचक संज्ञा

2- जातिवाचक संज्ञा

See also  Download Shaksamta Exam OMR Sheet PDF

3- भाववाचक संज्ञा

4- समुदाय या समूहवाचक संज्ञा

5- द्रव्यवाचक संज्ञा

अब हम संज्ञा के भेदों को विस्तार से उदाहरण सहित जानेंगे

1- व्यक्तिवाचक संज्ञा

जिस शब्द से किसी विशेष व्यक्ति, विशेष स्थान और विशेष वस्तु के नाम का बोध होता है, वह शब्द व्यक्तिवाचक संज्ञा कहलाता है। साधारण शब्दों में, कोई भी ऐसा व्यक्ति, स्थान या वस्तु जो विशेष महत्त्व रखता हो, वह व्यक्तिवाचक संज्ञा शब्द के अंतर्गत आता है।

जैसे –

व्यक्ति – भगत सिंह, महात्मा गाँधी, सचिन तेंदुलकर, मदर टेरेसा इत्यादि।

स्थान – दिल्ली, गोवा, मुंबई, जयपुर, शिमला इत्यादि।

इमारत का नाम – ताजमहल, लालकिला, हवा महल इत्यादि।

विशिष्ट शिक्षक सक्षमता परीक्षा के सभी विषयों के Complete PDF/Printed Notes प्राप्त करने के लिए +91 7631314948 पर Call/Whatsapp करें।




2- जातिवाचक संज्ञा

जिस किसी एक शब्द से किसी सम्पूर्ण जाति का बोध हो वह शब्द जातिवाचक संज्ञा शब्द कहलाता है। साधारण शब्दों में ऐसा कोई एक शब्द जो किसी पूरी जाति को उसकी संपूर्ण श्रेणी और पुरे वर्ग को सम्बोधित करता है जातिवाचक संज्ञा शब्द कहा जाता है।

जैसे –

वस्तु – कार, मोबाइल, टीवी, पुस्तक इत्यादि।

स्थान – पहाड़, तालाब, गाँव, शहर इत्यादि।

प्राणी – पुरुष, स्त्री, गाय, शेर इत्यादि।

3- भाव वाचक संज्ञा

जो शब्द किसी व्यक्ति, वस्तु या स्थान के गुण, कर्म, दशा, अवस्था, भाव आदि का बोध कराएँ वह शब्द भाववाचक संज्ञा शब्द कहलाते हैं। साधारण शब्दों में भाववाचक संज्ञा का संबंध हमारे भावों से होता है। ये अमूर्त अर्थात केवल अनुभव किए जाने वाले शब्द होते हैं। इनमें हमारी भावनाएँ प्रमुख होती हैं।

See also  Sakshamta Admit Card Verification Format

जैसे –

भाव – ख़ुशी, क्रोध, दुःख इत्यादि।

दशा – भूख, प्यास, गरीबी इत्यादि।

अवस्था – बुढ़ापा, जवानी, बचपन इत्यादि।

गुण – मिठास, सुंदरता, कोमलता, कठोरता इत्यादि।

4- समुदायवाचक या समूहवाचक संज्ञा

जो शब्द किसी एक जाति के सम्पूर्ण समूह या समुदाय का बोध कराता है वह शब्द समुदायवाचक या समूहवाचक संज्ञा शब्द कहलाता है। साधारण शब्दों में किसी एक पुरे वर्ग को दर्शाने वाला शब्द समुदायवाचक या समूहवाचक संज्ञा शब्द कहा जाता है।

जैसे –

सेना, सभा, कक्षा, झुण्ड, लकड़ी का गठ्ठा, गेंहूँ का ढ़ेर इत्यादि।

5- द्रव्यवाचक संज्ञा

जो शब्द किसी पदार्थ, धातु या द्रव्य को दर्शाता है या उनका बोध कराता है वह शब्द द्रव्यवाचक संज्ञा शब्द कहलाता है।

जैसे –

तेल, पानी, दूध, घी, लोहा, सोना, तांबा इत्यादि।

विशिष्ट शिक्षक सक्षमता परीक्षा के सभी विषयों के Complete PDF/Printed Notes प्राप्त करने के लिए +91 7631314948 पर Call/Whatsapp करें।





Share This Post